'वैलेंटाइन डे'

दुनिया भर में
प्रेम पर लिखी गई कविताएं
उत्पादों की शक्ल में
बाजार के रेड कॉरपेट पर
मचल रही है..
प्रेम की कथित उत्सवधर्मिता के बहाने
तय कीमतों पर
बाजार मेरी देहरी तक आ गया है
मैं अपने कलेजे में
प्रेम दबाए
अपने ही चौखट में सिमटा हुआ हूं।

17-01-2014

Comments