वो शब्द, जो जुबां से निकले और असर छोड़ गए..

कभी-कभी हम
हम्माम में नंगे खड़े होते है.
लेकिन नहा नहीं पाते.


Comments